1 अरब से ज्यादा स्मार्टफोन पर हैकिंग का खतरा

0
स्मार्टफोन

साइबर सिक्योरिटी फर्म Which? ने दावा किया है कि दुनिया भर के 1 अरब से ज्यादा एंड्रॉयड स्मार्ट फोन में सिक्योरिटी अपडेट नहीं मिलते है जिस की वजह से वे फोन आसानी से हैक किए जा सकते है ।

ऐसे में यूजर का डेटा आसानी से चोरी हो सकता है, साइबर सिक्योरिटी वॉच डॉग ने कहा है कि 2012 या इससे पहले लॉन्च किए गए एंड्रॉयड स्मार्टफोन यूजर्स के लिए ये ज्यादा गंभीर समस्या है. अब तक गूगल ने इस रिपोर्ट पर कोई भी बयान जारी नहीं किया है.

इस सिक्योरिटी वॉच डॉग ने गूगल के अलावा स्मार्ट मेकर्स कम्पनी से भी यह सवाल पूछा है कि मोबाइल कंपनियों को सॉफ्टवेयर अपडेट को लेकर यूजर्स के साथ ट्रांसपेरेंट होने की जरूरत है.

आमतौर पर स्मार्टफोन कंपनियां कितने भी महंगे स्मार्टफोन क्यों न हों, लेकिन ये साफ नहीं करती हैं कि आपको कितने सालों तक एंड्रॉयड अपडेट मिलता रहेगा. ज्यादातर एंड्रॉयड स्मार्टफोन्स में दो से तीन साल के बाद ही अपडेट मिलने बंद हो जाते हैं.

अगर आप के स्मार्ट फोन में भी अपडेट नहीं मिला रहा है तो समझ लीजिए कि अब नया फोन लेने का वक्त आ गया है और यदि आप नया स्मार्ट फोन नहीं लेना चाहते है तो आप नई ऐप्स को अपने स्मार्ट फोन में डाउनोड करने से बचें और किसी भी संदेह जनक वेबसाइट पर ना जाए

बीबीसी एक रिपोर्ट के मुताबिक गूगल का डेटा ये खुद कहता है कि दुनिया भर के 42.1% एंड्रॉयड यूजर्स के पास Android 6.0 या इससे नीचे के वर्जन हैं.

सिक्योरिटी वॉच डॉग Which? ने अपनी स्टडी में पाया है कि दुनिया भर के 5 में से 2 एंड्रॉयड यूजर्स को अब सिक्योरिटी अपडेट्स नहीं दिए जाते हैं.

इस एजेंसी ने पांच स्मार्टफोन्स की टेस्टिंग की है. इनमें Moto X, Samsung Galaxy A5, Sony Xperia Z2, Nexus 5 और Samsung Galaxy S6 शामिल हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here